संघ सरकार -संघ के प्रकार – संसद में निर्वाचित सदस्य संख्या- अनुच्छेद 61 राष्ट्रपति पर महाभियोग – एकल संक्रमणीय मत प्रणाली 

संघ सरकार

Table Of Contents hide

अनुच्छेद / Article 52 भारत में एक राष्ट्रपति होंगे

Article 52 India will have a President

अनुच्छेद 53 संघ की कार्यपालिका शक्ति राष्ट्रपति में निहित है

Article 53 The executive power of the Union is vested in the President

अनुच्छेद 58 राष्ट्रपति चुने जाने के लिए योग्यता

Article 58 Eligibility for election as President

1. वह भारत का नागरिक हो

1. He is a citizen of India

2. वह 35 वर्ष की आयु पूरी कर चुका हो

2. He has completed the age of 35 years

3. लोकसभा सदस्य बनने की योग्यता होनी चाहिए

3. Must have qualification to become a member of Lok Sabha

4. चुनाव के समय लाभ के पद पर नहीं होना चाहिए

4. Should not be in a position of profit at the time of election

लाभ के पद पर सरकारी नौकरी

Government job in the post of profit

संघ सरकार

अनुच्छेद 54 चुनाव राष्ट्रपति का चुनाव (निर्वाचन मंडल)

Article 54 Election Presidential Election (Election Board)

1.संसद के दोनों सदनों के निर्वाचित सदस्य

1. Elected Members of both Houses of Parliament

2.राज्य विधानसभा के निर्वाचित सदस्य

2.Elected members of the state assembly

3.दिल्ली ,पांडुचेरी, जम्मू कश्मीर विधानसभाओं के निर्वाचित सदस्य

3.Elected Members of Delhi, Pondicherry, Jammu and Kashmir Legislative Assemblies

नोट विधान परिषद के निर्वाचित मनोनीत सदस्य राष्ट्रपति के चुनाव में भाग नहीं लेते

Note Elected nominated members of the Legislative Council do not participate in the election of the President

अनुच्छेद 55 राष्ट्रपति की निर्वाचन विदेश नीति राष्ट्रपति का चुनाव एकल संक्रमणीय अनुपातिक गुप्त मतदान प्रणाली से होता है

Article 55 Presidential Election Foreign Policy President is elected by a single transferable proportional secret voting system.

MP = Member Of Parliament = संसद सदस्य

MLA = Member Of legislative assembly = विधान सभा का सदस्य

संघ सरकार

एकल संक्रमणीय मत प्रणाली 

एकल संक्रमणीय मत प्रणाली (2)
एकल संक्रमणीय मत प्रणाली 

इस जनसंख्या का आधार वर्ष 1971 है तथा वर्ष 2026 तक यही रहेगाी

The base year of this population is 1971 and will remain the same till the year 2026.

सभी राज्यों की जनसंख्या तथा विधानसभा सदस्य संख्या अलग होने के कारण सभी राज्यों के विधायकों का मत मूल्य भी अलग – 2 होता है

Due to the different population of all states and the number of assembly members, the vote value of MLAs of all the states is also different.

संघ सरकार

पूरे देश का मत मूल्य 549495 है

The vote value of the entire country is 549495.

1. एक सांसद का मत मूल्य (MP)

1. Value of an MP (MP)

( सभी राज्यों तथा दिल्ली ,पांडुचेरी, जम्मू कश्मीर की विधानसभाओं के सभी निर्वाचित सदस्यों की मतों की मूल्यों का योग )

(The sum of the values ​​of the votes of all the elected members of all the states and assemblies of Delhi, Ponducherry, Jammu and Kashmir)

संघ सरकार

संसद में निर्वाचित सदस्य संख्या

संसद में निर्वाचित सदस्य संख्या
संसद में निर्वाचित सदस्य संख्या

संघ सरकार
  • उम्मीदवार हेतु 50 प्रस्तावक व 50 अनुमोदक होते हैं
  • There are 50 proposers and 50 endorsers for the candidate.
  • 1997 से पूर्व इनकी संख्या 10-10 होती थी
  • Before 1997, they used to be 10–10.

प्रस्तावक तथा अनुमोदक   MP तथा MLA ऐसे ही होते हैं 15 हजार की राशि उम्मीदवार द्वारा RBI में जमा की जाती है

The proposer and the approver MP and MLA are like this, the amount of 15 thousand is deposited by the candidate in RBI.

यदि उम्मीदवार कुल बाद का 1 /6 मत प्राप्त नहीं कर पाता तो राशि जब्त कर ली जाएगी पहले यह राशि 2500 थी

If the candidate is unable to get 1/6 of the total votes then the amount will be confiscated. Earlier this amount was 2500.

अनुच्छेद (Article) 71 राष्ट्रपति के चुनाव में कोई भी विवाद होने पर निपटारा सर्वोच्च न्यायालय करता है

Article 71 is settled by the Supreme Court in case of any dispute in the election of the President.

अनुच्छेद 71(4) निर्वाचन मंडल अधूरा होने पर राष्ट्रपति के चुनाव पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है

Article 71 (4) The election of the President has no effect if the electoral college is incomplete.

इसे 11 वां संविधान संशोधन 1961 द्वारा जोड़ा गया

It was added by the 11th Constitution Amendment 1961

संघ सरकार

अनुच्छेद 60 राष्ट्रपति की शपथ

Article 60 Presidential Oath

राष्ट्रपति को सपथ मुख्य न्यायाधीश दिलाता है मुख्य न्यायाधीश ना होने पर वरिष्ठ न्यायाधीश शपथ दिलाता है

The President makes Sapath the Chief Justice, when the Chief Justice is not there, the Senior Judge swears

शपथ = भारत का राष्ट्रपति संविधान की परीक्षण, संरक्षण, प्रतिक्षण ,करेगा

Oath = President of India shall test, preserve, await the Constitution.

संघ सरकार

अनुच्छेद 56 राष्ट्रपति का कार्यकाल

Article 56 President’s term

राष्ट्रपति अपने पद ग्रहण की तिथि से 5 वर्ष की अवधि तक पद धारण करेगा अपने पद की समाप्ति के बाद भी पद पर तब तक बना रहेगा जब तक उसका उत्तराधिकारी पद ग्रहण नहीं कर लेगा

The President shall hold office for a period of 5 years from the date of his office, even after the termination of his office, he shall remain in office till his successor takes office.

अनुच्छेद 61 राष्ट्रपति पर महाभियोग

अनुच्छेद 61 राष्ट्रपति पर महाभियोग
अनुच्छेद 61 राष्ट्रपति पर महाभियोग

संघ सरकार

अनुच्छेद 61 राष्ट्रपति पर महाभियोग

Article 61 Impeachment on President

राष्ट्रपति द्वारा संविधान के प्रावधानों के उल्लंघन पर संसद के कितने सदन द्वारा उस पर महाभियोग लगाया जा सकता है परंतु उसके लिए आवश्यक है कि राष्ट्रपति को 14 दिन पहले लिखित सूचना दी जाए जैसे पर उच्च सदन की 1/4 सदस्यों के हस्ताक्षर हो संसद के उच्च सदन जिसमें महाभियोग का प्रस्ताव पेश है कि 2/3 सदस्यों द्वारा पारित कर देने पर प्रस्ताव दूसरे सदन में जाएगा तब दूसरा सदन राष्ट्रपति पर लगाए गए आरोपों की जांच करेगा या कराएगा और ऐसी जांच में राष्ट्रपति के ऊपर लगाए गए आरोपों को सिद्ध करने वाला प्रस्ताव 2/3 बहुमत से पारित हो जाता है तब राष्ट्रपति पर महाभियोग की प्रक्रिया पूरी की जाएगी और उसी से राष्ट्रपति को पद त्याग करना होगा राष्ट्रपति को 6 महीने के अंदर भरना होगा

How many Houses of Parliament can be impeached by the President for violation of the provisions of the Constitution, but it is necessary that the President be given written notice 14 days in advance as if signed by 1/4 members of the Upper House. The House wherein the motion of impeachment is proposed that after the resolution is passed by 2/3 members, the motion will go to the second house, then the second house will inquire into the allegations made on the President or get it done and in such inquiry, the proposal proving the charges against the President If 2/3 is passed by majority then the process of impeachment will be completed on the President and from that the President will have to resign and the President will have to be filled within 6 months.

संघ सरकार

इन्हे भी पढ़े 

मौलिक अधिकार 

कागज की नोटों शुरुआत 

भारत के राष्ट्रपति और उनका कार्यकाल 

संघ और राज्यक्षेत्र

स्थानीय स्वशासन

संघ सरकार

3 thoughts on “संघ सरकार -संघ के प्रकार – संसद में निर्वाचित सदस्य संख्या- अनुच्छेद 61 राष्ट्रपति पर महाभियोग – एकल संक्रमणीय मत प्रणाली ”

Leave a Comment

error: Content is protected !!
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro

Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

Powered By
Best Wordpress Adblock Detecting Plugin | CHP Adblock