Attorney-General of India – भारत के महान्यायवादी

Attorney-General of India

  • महान्यायवादी( 76)Attorney General
  • भारत सरकार का वकील
  • Government of India lawyer
  • नियुक्ति राष्ट्रपति आर्टिकल (76)
  • योग्यता सर्वोच्च न्यायालय के जज के समान(76)
  • Appointment President Article (76)
    Qualification similar to Supreme Court judge
Table Of Contents hide
3 नोट महान्यायवादी एससी का जज वकील नहीं होता है किंतु वह एचसी के जज के समान योग्यता रखता है

अनुच्छेद 124(3) सर्वोच्च न्यायालय के जज की योग्यता

Article 124 (3) Qualification of Supreme Court judge

  • भारत  का नागरिक हो
  • Be a citizen of India
  • 5 वर्ष तक एचसी जज या 10 वर्ष से वकील या विधिवेन्ता का राष्ट्रपति की नजर में
  • HC judge for 5 years or lawyer or jurist for 10 years in the eyes of the President

नोट महान्यायवादी एससी का जज वकील नहीं होता है किंतु वह एचसी के जज के समान योग्यता रखता है

Note Attorney General is not a judge of SC but he has the same qualifications as a judge of HC

  • कार्यकाल राष्ट्रपति के प्रसादपर्यंत क्षेत्र अनुच्छेद (76
  • Tenure of President’s term of office Article  (76)
  • भारत सरकार के वकील
  • Government of India lawyer
  • प्रथम विधि अधिकारी
  • First Law Officer
  • Attorney-General of India
  • सैलरी राष्ट्रपति के द्वारा निर्धारित अनुच्छेद (76 )
  • Salary Prescribed by the President Article (76)
  • कार्य सरकार को कानूनी मामलों में सलाह विधि परामर्श राष्ट्रपति को सलाह
  • Advice to Legal Affairs in Government Work Advice to President
  • सरकार को पक्ष रखेंगे
  • Will favor the government

अनुच्छेद 76(3) महान्यायवादी की शक्तियां महान्यायवादी को अपने कर्तव्यों के पालन के लिए भारत के राज्य क्षेत्र में स्थित सभी न्यायालय में सुनवाई का अधिकार होगा

Article 76 (3) Powers of Attorney General The Attorney General shall have the right to be heard in all jurisdictions located in the territory of India for the discharge of his duties.

अनुच्छेद( 88) महान्यायवादी को संसद के किसी भी सदन दोनों सदनों की संयुक्त बैठक तथा संसद के किसी भी समिति जिसका वह सदस्य है की कार्यवाही में कार्य में भाग लेने तथा भाग लेने तथा बोलने का भी अधिकार है हालीका उसे संसद के दोनों सदनों का में मत देने का अधिकार नहीं) है

Article (88) The Attorney General also has the right to participate in the proceedings of the joint sitting of both the Houses of Parliament and the proceedings of any committee of Parliament of which he is a member, and also to speak in both Houses of Parliament. Not voting right)

अनुच्छेद 105(5 ) महान्यायवादी को अपने कार्यकाल के दौरान संसद सदस्यों को प्राप्त होने वाली सभी उनव्क्तियों विशेष अधिकार भी प्राप्त होते हैं

Article 105 (5) The Attorney General also enjoys all the special privileges that members of Parliament get during their tenure.

भारत का महान्यायवादी

मर्यादा( 76) सरकार के खिलाफ नहीं जा सकते

Maryada (76) cannot go against the government

  • प्राइवेट प्रोडक्ट्स कर सकते हैं
  • Can do private products
  • Attorney-General of India
  • सरकार की अनुमति से अपराधिक केस लड़ सकते हैं
  • Criminal cases can be fought with the permission of the government
  • वेतन संचित निधि से भरित हैं
  • Salaries are filled with accumulated funds

प्रथम महान्यायवादी एम सी शीतलवाडा 1950 1963 सबसे लंबा कार्यकाल 13 वर्ष

First Attorney General MC Sheetalwada 1950 1963 Longest term 13 years

दूसरा सबसे लंबा कार्यकाल नीरेन 1968 1977 तक

Second longest term Niren 1968 to 1977

वर्तमान महान्यायवादी के के वेणुगोपाल 2017 से अब तक

Current Attorney General KK Venugopal since 2017

अनुच्छेद( 165)राज्य महाधिवक्ता

Article (165 State Advocate General

  • राज्य सरकार का वकील होता है
  • The state government is a lawyer
  • नियुक्ति राज्यपाल द्वारा
  • Appointed by the Governor

योग्यता H. c की जज की बराबर 10 साल तक वकील जज

Qualification h. Judge of c equal to judge for 10 years

कार्यकाल राजपाल की प्रसादपर्यंत शक्ति राज्य की किसी भी किसी भी न्यायालय के समक्ष सुनवाई का अधिकार राज्य विधान मंडल में जाने का अधिकार बोलने का मत तक नहीं

Tenure of power of Rajpal, the right to hear before any court of the state, not even the right to speak in the state legislature

इन्हे भी पढ़े 

स्थानीय स्वशासन 

मौलिक अधिकार 

संघ और राज्यक्षेत्र

मुख्यमंत्री 

राज्य

राज्य विधान मंडल 

error: Content is protected !!