इंग्लैण्ड के शासक चार्ल्स द्वितीय के क्लेरैण्डन कोड’ तथा मील मॉडल एक्ट’

इंग्लैण्ड के शासक चार्ल्स द्वितीय के क्लेरैण्डन कोड’ तथा मील मॉडल एक्ट’

The Clarendon Code ‘and Meal Model Act’ of Charles II of England.

Clarendon Code) चार्ल्स द्वितीय का प्रथम मन्त्री एडवर्ड हाइड (Edward Hyde) था, जिसे ‘अर्ली क्लैरेण्डन’ की उपाधि प्रदान की गयी थी।

(Clarendon Code) Charles II’s first minister was Edward Hyde, who was conferred the title of ‘Early Clarendon’.

वह क्लेरैण्डन के नाम से ही अधिक प्रणित उसने लगभग सात वर्षों तक कार्य किया। चाल्र्स द्वितीय क्लेरेण्डन पर अत्यधिक विश्वासका था एवं समस्त कायो को उसे ही सौंप रखा था

He worked for more than seven years in the same name as Clarendon. Charles II was highly confident of Clarendon And had handed over all the works to him

क्लेरेण्डन को आधा राजा’ (Halfri भी कहा जता था।

Clarendon was also called Halfri.

क्लेरैण्डन एक योग्य एवं परिश्रमी व्यक्ति था। उसके कार्यकाल में सर्व समस्या धर्म की थी

Clarendon was a qualified and hard-working person. In his tenure, the whole problem was about religion

क्योंकि इस विषय को कन्वेन्शन में आगामी संसद के लिए स्थगित कर था।

Because the subject was postponed for the upcoming Parliament in the Convention.

क्लेरैण्डन के कार्यकाल में संसद ने धर्म सम्बन्धी चार अधिनियम पारित किये, जिर। ‘क्लेरैण्डर्न कोड’ (Clarendon Code) कहा जाता है। ये नियम प्यूरिटन सम्प्रदाय के विरुद्ध थे

During Clarandon’s tenure, Parliament passed four Acts relating to religion, Zir. It is called the Clarendon Code. These rules were against the Puritan sect

ये चार धर्म सम्बन्धी नियम निम्न थे

These four religious rules were as follows

पाँच मील का नियम

.Five mile rule

(The Five Mils Act) यह अधिनियम 1665 ई. में पारित किया गया

The Five Mils Act) This act was passed in 1665 AD

इस नियम के द्वारा दो हजार पादरियों को अपने पुराने शहर अथवा किसी भी नगर निगम की पाँच मील की परिधि जाने पर प्रतिबन्ध लगाया गया

By this rule, two thousand priests were banned from going to the circumference of five miles of their old city or any municipal corporation.

जब तक कि निगम नियम को स्वीकार न करें तथा सरका के प्रचलित कानूनों में हस्तक्षेप न करने का शपथ न ले लें।

Unless the corporations accept the rule and swear not to interfere in the prevailing laws of government.

उपर्यक्त नियमों को यद्यपि ‘क्लैरैण्डन कोड’ के नाम से जाना जाता है, किन्त यह नहीं है

Although the above rules are known as ‘Clarandon Code’, But it is not

क्योंकि ये नियम न तो उनकी प्रेरणा अथवा प्रयत्नों और न ही राजा की प्रेरणा से थे।

Because these rules were neither their inspiration or efforts nor the inspiration of the king.

चार्ल्स द्वितीय धार्मिक अत्याचारों पर विश्वास नहीं करता था। इन नियमों का अन्य कठोरतापूर्वक पालन किया गया,

Charles II did not believe in religious atrocities. These rules were followed more rigorously,

परिणामस्वरूप हजारों प्यूरिटनों को बन्दी बनाया तथा देशः । निकाला गया।

As a result, thousands of Puritans were imprisoned and the country. Removed.

‘पिलग्रिम्स प्रोग्रेस’ के प्रसिद्ध लेखक जॉन बैनयन (John Banyan) को बा । वर्षों तक कारावास में रहना पड़ा।

John Banyan, the famous author of ‘Pilgrim’s Progress’. Had to stay in imprisonment for years.

इस प्रकार ब्रेडर की घोषणा, जिसमें धार्मिक स्वतन्त्रता 6। आश्वासन दिया गया था,

Thus the declaration of the Breeder, in which religious freedom was g. Was assured,

को पूर्णरूपेण भुला दिया गया। इस प्रकार लॉड और चार्ल्स प्रथम ।

Was completely forgotten. Thus Laud and Charles I.

धर्र्मिक प्रबन्ध को पुनः प्रचलित किया गया। प्यरिटनों के विरुद्ध होने वाली प्रतिक्रिया का सबसे अच्छा परिणाम यह था

Religious management was reintroduced. The best result of the reaction against the Puritans was

पुनर्स्थापना कार्य स्वयं संसद का था।

The restoration work was of the Parliament itself.

लॉड ने संसद की अवहेलना करते हुए अपने विरोधियों को दण्डित किया था,

Laud defied Parliament and punished his opponents,

परन्तु पुनर्स्थापना काल के विरोधियों को लोकसभा द्वारा बनाये गये नियमों द्वारा ही सजा दी गई।

But the opponents of the restoration period were punished only by the rules made by the Lok Sabha.

प्यूरिटनों के विरुद्ध उसी शक्तिशाली प्रतिक्रिया ने राजतन्त्र को सम्मानित किया तथा राजभक्ति को ही धर्म का रूप प्रदान किया।

The same powerful reaction against the Puritans honored the monarchy and gave royalism its form of religion

इन्हे भी पढ़े

इंग्लैंड की क्रांति

अमेरिका की क्रांति

धर्म सुधार आंदोलन

पुनर्जागरण Renaissance

 

1 thought on “इंग्लैण्ड के शासक चार्ल्स द्वितीय के क्लेरैण्डन कोड’ तथा मील मॉडल एक्ट’”

Leave a Comment

error: Content is protected !!